Signal एप्प बना 1 वन चैटिंग एप्प – WhatsApp का सबसे बड़ा अल्टरनेटिव

जबसे व्हाट्सप्प की तरफ से नयी प्राइवेसी पॉलिसी अपडेट हुई है तब से व्हाट्सअप के सभी यूज़र्स के बीच हाहाकार मचा हुआ है। व्हाट्सप्प ने अपने अपडेट के बारे में कहा है कि अगर आपने हमारी प्राइवेसी पॉलिसी को एग्री या एक्सेप्ट किया तो आप व्हाट्सप्प इस्तेमाल कर सकते है। नहीं तो 8 फरवरी तक आपका व्हाट्सप्प डिलीट कर दिया जायेगा। इसके बाद व्हाट्सअप को इस्तेमाल करने वाले लोगो ने व्हाट्सअप को अनइंस्टाल करना शुरू कर दिया। व्हाट्सप्प के सभी यूज़र्स व्हाट्सप्प का अल्टरनेटिव ढूढ़ना रहे है।

Signal ने व्हाट्सअप को पीछे छोड़ 1 नंबर पोजीशन हासिल की

जबसे व्हाट्सप्प की प्राइवेसी पॉलिसी को लेकर हाहाकार मचा हुआ हैं तभी इसी बीच एक मैसेंजिंग एप्प Signal एप्प बहुत तेजी से चल रहा है और Signal एप्प को लाखो लोग इन्सटॉल भी कर चुके है। बताया जा रहा की Signal एप्प अपनी सिक्यूरिटी को लेकर बहुत मजबूत है इसकी प्राइवेसी पॉलिसी बहुत ही सिक्योर है। जिससे व्हाट्सप्प के यूजर व्हाट्सप्प की जगह Signal एप्प का इस्तेमाल करने लगे है।

पिछले तीन दिनों में Signal एप्प को बहुत भारी संख्या में लोग इनस्टॉल कर रहे है। Signal एप्प भारत और दुनिया के बाकी देशो में भी टॉप पर चल रहा रहा है। सिग्नल एप्प दुनिया  भर में एप्पल के एप्प स्टोर में सबसे अच्छा फ्री एप्प बन चूका है। सिग्नल एप्प ने एप्प स्टोर टॉप फ्री एप्प्स के चार्ट को ट्वीट भी किया है। अभी देखा जाए तो Signal एप्प बहुत ही तेजी से वायरल हो रहा है और इसके यूजर बहुत तेजी से बढ़ रहे है। भारत में Signal एप्प ने व्हाट्सप्प को पीछे छोड़ दिया है। Signal एप्प ने एक नंबर पोजीशन हासिल कर ली है।

इसके साथ ही ऑस्ट्रलिया, होमकोन, जर्मनी, फ्रांस स्वीजीलैंड, इन देशो में भी Signal एप्प बहुत तेजी से इनस्टॉल किया जा रहा है और Signal एप्प ने इन देशो में भी व्हाट्सप्प को पीछे छोड़ नंबर एक की पोजीशन हासिल कर ली है।

व्हाट्सप्प का अल्टरनेटिव

Signal एप्प व्हाट्सप्प का सबसे बड़ा अल्टरनेटिव माना जा रहा है इस बीच व्हाट्सप्प का अल्टरनेटिव टेलीग्राम को भी माना जा रहा है। लेकिन प्राइवेसी पॉलिसी और सिक्योरिटी के मामले में Signal एप्प नंबर वन की पोजीशन पर है। Signal एप्प ने सिक्योरिटी के मामले में सभी एप्प को पीछे छोड़ पछाड़ दिया है। रिपोर्ट के अनुसार पिछले दो दिनों में एंड्राइड और IOS डिवाइस में 10 लाख से भी ज्यादा लोगो ने Signal एप्प को डाउनलोड किया है।

इसके साथ ही व्हाट्सप्प की नयी प्राइवेसी पॉलिसी के बाद व्हाट्सप्प के इंस्टालेशन में 12 प्रतिशत गिरावट हुई है। Signal एप्प व्हाट्सप्प की तरह एक मेसेजिंग एप्प है जिसे विंडो, एंड्राइड, IOS, MAC डिवाइस में आसानी से इस्तेमाल कर सकते है।

Signal एप्प की खूबियां

इस एप्प की ओनरशिप नॉन प्रॉफिटेबल कंपनी सिग्नल फाउंडेशन सिग्नल मेसेंजर LLC के पास है। आप व्हाट्सप्प की तरह सिग्नल एप्प में भी फोटोज, वीडियोस सेंड व रिसीव कर सकते है, वीडियो कॉल कर सकते है सिग्नल एप्प में व्हाट्सप्प की तरह ग्रुप भी बना सकते है। लेकिन सिग्नल एप्प के ग्रुप में 150 लोगो को ही ऐड किया जा सकता है।

Whatsapp को इस्तेमाल नहीं करना चाहते Signal ने Whatsapp को छोड़ा पीछे

सिग्नल एप्प का डाटा किसी दूसरे एप्प जैसे गूगल ड्राइव, क्लाउड स्टोर में स्टोर नहीं किया जा सकता है। अगर आपका फ़ोन घूम हों जाता है तो ऐसे में आप अपने चैट का बैकअप नहीं ले सकते है। सिग्नल एप्प में आप ग्रुप बनाकर सीधा किसी को ग्रुप में ऐड भी नहीं कर सकते है जब आप किसी को ग्रुप में ऐड करते है तो पहले उसके पास नोटिफिकेशन जाएगा इसके बाद अगर चाहेगा तभी ज्वाइन हो सकता है। सिग्नल एप्प में भी व्हट्सप्प की तरह डिलीट फॉर एवरीवन का ऑप्शन भी है।

सिग्नल एप्प की सिक्योरिटी

व्हाट्सप्प के कॉल्स और मैसेज ही एंड तो एंड एन्क्रिप्ट होते है लेकिन सिग्नल एप्प का मेटा डाटा भी एंड तो एंड एन्क्रिप्ट होता है इसलिए सिक्योरिटी के मामले में Signal एप्प व्हाट्सप्प से बेहतर है। एप्प स्टोर पर दी गई जानकारी के अनुसार सिग्नल एप्प यूजर काम कोई भी डाटा स्टोर नहीं करता है Signal एप्प सिर्फ आपका मोबाइल नंबर ही लेता है जिससे आप सिग्नल  एप्प पर अकाउंट बना पाते है।

व्हाट्सअप अपने यूजर से बहुत सारी जानकारी लेता है लेकिन सिग्नल एप्प ऐसा नहीं करता है अब आपको ही चुनना है कि आपको व्हाट्सप्प को अपना डाटा देकर उसे इस्तेमाल करना है या Signal एप्प का इस्तेमाल करना है।

उम्मीद करते है आपको हमारे द्वारा दी हुई जानकारी पसंद आई होगी अगर आपको हमारी पोस्ट पसंद आई है तो आप हमारी पोस्ट को शेयर जरूर करे जिससे ज्यादा से ज्यादा लोगो को इस मुद्दे की जनकरी मिल सके।

धन्यवाद

Leave a Comment