Rabindranath Tagore Jayanti 2022: रवीन्द्रनाथ टैगोर के जीवन के महत्वपूर्ण पहलू और सीख

Rabindranath Tagore Jayanti 2022: आज रवीन्द्रनाथ टैगोर जयंती है जिसे बड़े धूम धाम से मनाया जाता है आज के दिन रवीन्द्रनाथ टैगोर का जन्म हुआ था। रवीन्द्रनाथ टैगोर प्रसिद्ध कवी, संगीतकार, लेखककार, नाटककार, दार्शनिक और चित्रकार भी थे रवीन्द्रनाथ टैगोर ने समाज को सुधारने में बहुत सहयोग किया था।

रवीन्द्रनाथ टैगोर को बंगाल के लोग गुरुदेव के नाम से बुलाते थे। अगर आप रवीन्द्रनाथ टैगोर के उपदेश और विचारों को जीवन में उतारे तो आपके जीवन में अच्छा बदलाव देखने को मिल सकता है।

रवीन्द्रनाथ टैगोर का जन्म 7 मई 1861 को कोलकाता में माता-पिता देवेंद्रनाथ टैगोर और शारदा देवी के घर हुआ था। रवीन्द्रनाथ टैगोर अपने माता पिता की 13 वीं संतान थी। रवीन्द्रनाथ टैगोर को बचपन में रबी नाम से जानते थे रवीन्द्रनाथ टैगोर ने आठ साल की उम्र में ही अपनी पहली कविता लिख दी थी। रवीन्द्रनाथ टैगोर ने 16 वर्ष की उम्र में नाटक और कहानियाँ लिखना शुरू कर दिया था।

रवीन्द्रनाथ को प्रकति का रूप काफी पसंद था वह जब तक जीवित रहे तब तक प्रकति से जुड़े रहे थे। इन्होने अपनी अपनी इसी सोच को आगे रखकर शांति निकेतन की स्थापना की थी।

Leave a Comment